Breaking News

गोरखपुर: अस्पताल ने नहीं दी एंबुलेंस, कहा- बच्चे को टेम्पो में ले जाओ



उत्तर प्रदेस के गोरखपुर में ऑक्सीजन की कमी से बच्चों की मौत का मामला अभी शांत भी नहीं हुआ। वहीं दूसरी तरफ अस्पताल पर गंभीर आरोप लगा है। बीआरडी कॉलेज के हॉस्पिटल पर आरोप है कि उन्होंने बच्चों की मौत के बाद उनके शवों को घर तक पहुंचाने में परिजनों की कोई मदद नहीं की।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, न्यूज 18 से बातचीत के दौरान राजेश नाम के एक शख्स ने बताया कि पहले तो अस्पताल वाले उसको घर जाने ही नहीं दे रहे थे, क्योंकि स्वास्थ मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह वहां आकर प्रेस कॉन्फ्रेंस करने वाले थे।

राजेश ने अस्पताल पर आरोप लगाया कि डॉक्टरों ने बच्चे के शव को घर लेकर जाने की भी कोई व्यवस्था और सुविधा नहीं दी थी। राजेश ने आगे कहा कि उसने जब अस्पताल से एंबुलेंस मांगी तो कहा गया कि तुम्हारा बच्चा तो छोटा है, इसको तो टेंपो में भी लेकर जा सकते हो।

लेकिन वहीं दूसरी तरफ सूबे के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा था कि अगर पूर्वी उत्तर प्रदेश के मासूम असमय काल के गाल में समा रहे हैं, तो कहीं न कहीं इसके पीछे गंदगी है, खुले में शौच है।

इस अस्पताल में पिछले पांच दिनों के अंदर करीब 63 मरीजों की मौत हो चुकी है, जिसमें 36 बच्चे शामिल हैं। हादसे के बाद गोरखपुर में राजनेताओं का दौरान जारी है। आज केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री जेपी नड्डा आ रहे हैं।


No comments